Business

चीन को झटका, इस दिवाली पर फुस्स हो जाएगा कारोबार

Mon, 09 Oct 2017 11:05 PM 

09_10_2017-china-product

New Delhi (BNEWS*) इस बार चीन के सामान का कारोबार करने वालों की दिवाली फीकी रह सकती है। एक सर्वेक्षण के मुताबिक पिछले साल के मुकाबले इस साल चीनी वस्तुओं की बिक्री घटकर आधी हो सकती है। चीनी लड़ियों, दीयों और वॉल हैंगिंग की तुलना में इस बार लोग स्थानीय स्तर पर बनने वाले मिट्टी के दीयों का ज्यादा इस्तेमाल कर सकते हैं। चीन की वस्तुओं की बिक्री में पिछली दिवाली पर भी गिरावट आई थी। एक साल पहले की तुलना में पिछले साल इन वस्तुओं की बिक्री 30 फीसद तक गिरी थी।

इस सर्वेक्षण को एसोचैम-सोशल डेवलपमेंट फाउंडेशन ने अंजाम दिया है। इसमें अहमदाबाद, बेंगलुरु, भोपाल, चेन्नई, देहरादून, दिल्ली, हैदराबाद, जयपुर, लखनऊ और मुंबई के थोक व खुदरा व्यापारियों को शामिल किया गया। एसोचैम ने कहा, ‘इस दिवाली चीनी सामानों की बिक्री 40 से 45 फीसद कम रह सकती है। चीन के उत्पादों में फैंसी लडि़यां, दीये, लक्ष्मी-गणेश जी की मूर्ति, रंगोली और पटाखे शामिल हैं। अनुमान है कि इस बार लोग चीनी उत्पादों की तुलना में भारतीय उत्पादों को प्राथमिकता पर रख रहे हैं।’

सर्वेक्षण के अनुसार एलसीडी, मोबाइल फोन और चीन में बने अन्य इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की मांग में भी 15 से 20 फीसद की कमी आई है। इस सर्वे में भाग लेने वाले दुकानदारों ने कहा कि ज्यादातर उपभोक्ता अब भारतीय उत्पादों की मांग करते हैं। लोग भारतीय उत्पादकों तैयार लडि़यां और मिट्टी के दीये ले रहे हैं। एक अनुमान के मुताबिक 2016 में कुल 6,500 करोड़ रुपये के चीनी उत्पाद बिके थे। इनमें से 4,000 करोड़ रुपये के खिलौने, फैंसी लडि़यां, गिफ्ट के सामान और सजावट की वस्तुएं बेची गई थीं।

 



जल्द ऑनलाइन खरीद पाएंगे पेट्रोल डीजल, होगी होम डिलीवरी


देश में ई-कॉमर्स कंपनियों के बढ़ते दायरे को देखते हुए अब जल्द ही छोटे से छोटा सामान भी ऑनलाइन मिलना शुरू हो जाएगा। इतना ही नहीं केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस तरह के संकेत भी दिये हैं कि जल्द ही गाड़ियों में पेट्रोल और डीजल भरवाने के लिए आपको पेट्रोल पंप जाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।

धर्मेंद्र प्रधान ने ट्विटर के माध्यम से जानकारी दी है कि सभी पेट्रोलियम उत्पादों को ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर बेचने पर विचार किया जा रहा है। हालांकि इसपर सभी संबंधित विभागों की मंजूरी का इंतजार है। इसके बाद जल्द ही ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स बिकना शुरू हो जाएंगे। बुधवार को प्रधान ने दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित इंडियन मोबाइल कांग्रेस के दौरान इसपर बयान दिया था। साथ ही उन्होंने ट्विटर पर इसे शेयर भी किया।

उन्होंने कहा कि देश में पहल योजना, गिव इट अप योजना और उज्वला योजना को सफल बनाने में दूरसंचार क्षेत्र ने अहम भूमिका निभाई है। गिव इट अप योजना के तहत पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने देशभर के अमीर लोगों से अपनी गैस सब्सिडी को छोड़ने के लिए आग्रह किया था, इसके बाद कई लोगों ने इस बात पर अमल भी किया।


Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s